संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

कूडनकुलम परमाणु प्लांट विरोधी आंदोलन

कूडनकुलम सम्मेलन : परमाणु विरोधी आंदोलन की आवाज़ बुलंद

तमिलनाडु के कूडनकुलम में 4-5 जनवरी 2014 को देश भर के परमाणु संयंत्र विरोधी कार्यकर्ता ओर लोकतांत्रिक समाजकर्मी इकठ्ठा हुए और उन्होंने विदेशी कॉर्पोरेट के लिए देश के साधारण ग्रामीणों और मछुआरों की ज़िन्दगी से खिलवाड़ बंद करने की मांग की. इस राष्ट्रीय सम्मेलन में परमाणु विरोधी आंदोलनों को तेज करने का आह्वान किया गया. पेश है कूडनकुलम…
और पढ़े...

कुडनकुलम: सर्वोच्च न्यायालय में जनता की अवमानना

अपने हक अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहे देश के लोगों का इस तरह के मामलों में सर्वोच्च न्यायालय से गुहार लगाना…

कुडनकुलम पर कोर्ट का फैसला: जनता की अवमानना

सर्वोच्च न्यायालय ने तमिलनाडु के कुडनकुलम न्यूक्लियर प्लान्ट से जुड़ी याचिका को खारिज करते हुये इसे हरी झण्डी…

कूडनकुलम: रिएक्टर चालू होने से पहले ही आशंका के घेरे में, सरकार अड़ी

तमिलनाडु के कूडनकुलम में रूस से आयातित परमाणु बिजलीघर की सुरक्षा प्लांट के शुरु होने से पहले ही आशंकाओं के घेरे में आ गयी है. अणु-ऊर्जा नियमन बोर्ड ने रिएक्टर की सुरक्षा जांच दुहराने के आदेश दिये हैं. यद्यपि रिएक्टर के सन्चालन के लिए जिम्मेवार कम्पनी परमाणु शक्ति कारपोरेशन के अधिकारी और परमाणु ऊर्जा विभाग से जुडे वैज्ञानिक यह दावा कर रहे हैं कि…
और पढ़े...

कूडनकुलम आंदोलन निर्णायक दौर में

कूडनकुलम बेशक राष्ट्रीय मीडिया की सुर्ख़ियों से उतर गया हो, लेकिन ज़मीन पर भारी दमन के बावजूद विरोध जारी है.…

कूडनकुलम रिएक्टर पर रोक लगे और ऊर्जा-नीति पर राष्ट्रीय बहस हो: अली अनवर

राज्य सभा सांसद अली अनवर ने आज संसद में कूडनकुलम का मुद्दा उठाते हुए वहाँ के आंदोलनकारियों को रिहा करने की मांग की…

कूडनकुलम भविष्य की भोपाल त्रासदी हो सकता है : नॉम चौम्स्की

संयुक्त राज्य अमेरिका के मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी के अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त शिक्षाविद् तथा विचारक नोमचोमस्की ने कहा है कि कूडनकुलम भविष्य में होने वाली भोपाल त्रासदी हो सकता है। संघर्ष कर रहे लोगों के समर्थन में लिखे एकजुटता पत्र में नोम चोमस्की ने कहा कि परमाणु ऊर्जा एक खतरनाक पहल है खासकर भारत जैसे देशों जहां औद्योगिक…
और पढ़े...

कूडनकुलम: दमन, उत्पीड़न जारी, मानवाधिकार कार्यकर्ता गिरफ्तार

कूडनकुलम परमाणु परियोजना के खिलाफ जारी पुलिसिया दमन की जांच पडताल करने के लिय जा रहे विस्थापन विरोधी जनविकास आंदोलन…

परमाणु नहीं, सौर ऊर्जा चाहिए

विदेशी बाजे के शौक़ीन हमारे हुक़्मरान डा. राजेंद्र प्रियदर्शी लखनऊ में रहते हैं और जाने-माने परमाणु भौतिकविद…

विदेशी बाजे के शौक़ीन हमारे हुक़्मरान

डा. राजेंद्र प्रियदर्शी लखनऊ में रहते हैं और जाने-माने परमाणु भौतिकविद हैं। उन्होंने 1955 से 1960 तक स्टाकहोम स्थित स्वीडेन के एटामिक एनर्जी स्टेब्लिशमेंट में शोध कार्य किया जिसे दुनिया के अग्रणी नाभिकीय शोध संस्थानों में गिना जाता है। वैज्ञानिक शोध के सिलसिले में वह जर्मनी और कनाड़ा में भी रहे। इसी दौरान उनका मार्क्सवादी साहित्य से परिचय हुआ…
और पढ़े...