संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

राजस्थान

किसान सिंचाई आंदोलन : किसानों ने प्रशासन को दी 10 फ़रवरी तक की मोहलत

श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़ एटा-सिंगरासर माइनर नहर आंदोलन में पूर्व घोषणा के अनुसार 54 गांवों के किसानों ने 5 फ़रवरी को थर्मल के मुख्य द्वार से एक किलोमीटर दूर पर सभा की. थर्मल परियोजना के एक किलोमीटर दायरे में धारा 144 भी लागू थी. इसके साथ ही थर्मल कॉलोनी सहित प्रभात नगर में भी निषेधाज्ञा लागू थी. किसान प्रभात नगर में धारा तोड़ते हुए प्लांट के गेट…
और पढ़े...

एटा-सिंगरासर माइनर नहर आंदोलन : थर्मल पॉवर स्टेशन का घेराव करने निकले 54 गांवों के…

राजस्थान के श्रीगंगानगर में एटा सिंगरासर माइनर नहर निर्माण की मांग को लेकर एक बार फिर टिब्बा क्षेत्र के ग्रामीण और…

2709 दिनों से जारी है बांगड़-बिरला के खिलाफ धरना : योगेंद्र यादव व प्रशांत भूषण…

राजस्थान, नवलगढ़ 29 जनवरी 2018। भूमि अधिग्रहण विरोधी किसान संघर्ष समिति की ओर से गोठड़ा में किसानों की बैठक कैप्टन…

वागड़ मजदूर किसान संगठन का 19वां गांव गणराज्य सम्मेलन : प्राकृतिक संसाधनों पर गांव सभाओं का मालिकाना हक सुनिश्चित हो

23-24 दिसंबर 2017 को वागड़ मजदूर किसान संगठन ने अपने 19वें गांव गणराज्य सम्मेलन का डुंगरपुर, राजस्थान में आयोजन किया। सम्मेलन में आए विभिन्न गांव सभाओँ की कमेटियों अपने कामों का ब्यौरा देते हुए अपने संकल्प को दोहराया कि हमारे प्राकृतिक संसाधनों पर हमारा मालिकाना हक हम लेकर रहेंगे। सम्मेलन में आए विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं तथा नेतृत्वकारी साथियों…
और पढ़े...

मामा बालेश्वर दयाल स्मृति यात्रा का तीसरा दिन : 26 दिसम्बर को बामनिया में समापन

हज़ारों अनुयायियों के द्वारा की जा रही मामा बालेश्वर दयाल स्मृति यात्रा का आज तीसरा दिन 1965 में…

10वां दिन : गर्दन तक जमीन में दबे है नीदड़ के किसान

राजस्थान की राजधानी जयपुर स्थित विधानसभा से कोई बीस किलोमीटर दूर नींदड़ गाँव के किसान पिछले 10 दिनों से जिंदगी और…

राजस्थान : किसानों को न्यायलय भी कर रहा है गुमराह; 6 अक्टूबर के पत्रिका में दिए विज्ञापन में किसानों को 8 सितम्बर 2017 को किया तामिल

देश में सरकारे, मिडिया, कोर्पोरेटस और न्यायालय किस तरह मिल कर किसानों की जमीने हड़प रहे है इसका एक नमूना राजस्थान के झुंझुनू जिले में सामने आया है। 6 अक्टूबर 2017 को जिला एवं सेशन न्यायालय झुंझुनू की और से राजस्थान पत्रिका के झुंझुनू एडिशन में गोडड़ा गाँव के 180 किसानों को 8 सितम्बर 2017 को सेशन न्यायालय झुंझुनू में उपस्थित होने का आदेश छपा है। 8…
और पढ़े...

राजस्थान : जबरन भूमि अधिग्रहण के खिलाफ सामूहिक समाधि लेने उतारे किसान

जयपुर सीकर हाइवे स्थित नींदड गाँव में किसान पिछले 72 घंटों से भूमि समाधि ले कर बैठे हुए हैं। किसानों की…

सीकर किसान आंदोलन : मुआवजे के साथ किसानों पर 1500 मुकदमे दर्ज

जिस समय में राजस्थान के हजारों किसान अपनी मांगों को लेकर पूरा राजस्थान ठप्प किए हुए थे ठीक उसी समय राजे सरकार इन…

राजस्थान : किसान आंदोलन में भरी महिलाओं ने ऊर्जा

राजस्थान के सीकर किसान आंदोलन का वही हश्र हुआ जो इस व्यवस्था के भीतर राजनीतिक पार्टियों के नेतृत्व में चल रहे आंदोलनों का होता है किंतु जब इस आंदोलन की प्रक्रिया को देखते हैं तो पाते हैं कि यह आदोंलन महिलाओं की भागीदारी के संदर्भों में एक शानदार आंदोलन रहा। पेश है प्रगतिशील महिला एकता केंद्र से साभार यह रिपोर्ट; सोवियत क्रांति के नेता व्लादीमिर…
और पढ़े...