संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

राजस्थान

आठ वर्ष से धरने पर बैठे है किसान : बांगड़-बिरला सीमेंट प्लांट के खिलाफ किसानों की रैली; 29 अगस्त 2018

राजस्थान, नवलगढ़ 25 अगस्त 2018 । राजस्थान के झुंझुनू जिले के नवलगढ़ शहर में भूमि अधिग्रहण विरोधी किसान संघर्ष समिति ने अपने धरने के आठ साल पूरे होने के अवसर पर 29 अगस्त को इलाके में एक बड़ी रैली निकाले की घोषणा की है। गौरतलब है कि नवलगढ़ में पिछले आठ सालों से बांगड़-बिरला के सीमेंट प्लांट व खनन के विरोध में आंदोलन चल रहा है। 2007 में नवलगढ़ के 18…
और पढ़े...

जयपुर की महापंचायत से हुआ एलान : दलित, अल्पसंख्यक, आदिवासी विरोधी भाजपा को हराना…

दलित, आदिवासी, अल्पसंखयक दमन प्रतिरोध आन्दोलन २२ जुलाई जयपुर में हुई सफल महापंचायत नेतृत्व रहा श्री प्रकाश…

राजस्थान : करौली में मंदिर माफी की जमीन नहीं बिकेगी लेकिन नवलगढ़ में छीन ली जाएगी…

राजस्थान के करौली जिले में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा बाबा रामदेव को दी गई जमीन की लीज़ को सर्वोच्च न्यायालय…

राजस्थान : दमन के खिलाफ प्रतिरोध महापंचायत, 22 जुलाई 2018

दलित आदिवासी अल्पसंख्यक दमन प्रतिरोध आंदोलन की ओर से पिंक सिटी प्रेस क्लब, जयपुर (राजस्थान) में आगामी 22 जुलाई को होने वाली महापंचायत को लेकर प्रेस वार्ता आयोजित की गई। अनुसूचित जाति जनजाति अधिनियम में संशोधन के खिलाफ 2 अप्रैल के भारत बंद के बाद भाजपा सरकार व जातिवादी लोगों द्वारा दलित आदिवासी समुदाय पर हुए दमन के खिलाफ इस आंदोलन का गठन किया गया…
और पढ़े...

संविधान बचाओ-देश बचाओ सम्मेलन संपन्न

-बसन्त हरियाणा 8 फरवरी 2018। जयपुर में विनोबा ज्ञान मन्दिर में संवैधानिक अधिकार संगठन द्वारा संगठन के अध्यक्ष धर्मेंद्र तामडिया की अध्यक्षता मे संविधान बचाओ-देश बचाओ सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन की जानकारी देते हुए संगठन के उपाध्यक्ष बसन्त हरियाणा ने जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर राजस्थान के विभिन्न जिलों से आये संगठन के…
और पढ़े...

राजस्थान : कर्ज मुक्ति पर किसानों का सम्मेलन, किसान विरोधी बजट की प्रतियाँ 12 से…

-बसन्त हरियाणा 7 फरवरी 2018 को कुमारानंद भवन जयपुर में देश भर के 192 किसान संगठनों के अखिल भारतीय किसान…

राजस्थान : पेड़ों से उल्टा लटक किसान कर रहे प्रदर्शन, सरकार नहीं दे रही फसलों के…

बीते रविवार को राजस्थान के बूंदी ज़िले के छापड़दा गांव में फसलों के लिए पानी की मांग को लेकर किसानों ने पेड़ों…

किसान सिंचाई आंदोलन : किसानों ने प्रशासन को दी 10 फ़रवरी तक की मोहलत

श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़ एटा-सिंगरासर माइनर नहर आंदोलन में पूर्व घोषणा के अनुसार 54 गांवों के किसानों ने 5 फ़रवरी को थर्मल के मुख्य द्वार से एक किलोमीटर दूर पर सभा की. थर्मल परियोजना के एक किलोमीटर दायरे में धारा 144 भी लागू थी. इसके साथ ही थर्मल कॉलोनी सहित प्रभात नगर में भी निषेधाज्ञा लागू थी. किसान प्रभात नगर में धारा तोड़ते हुए प्लांट…
और पढ़े...