संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

चुटका परमाणु परियोजना

चुटका परमाणु परियोजना के विरोध में चेतावनी सभा

12 दिसम्बर 2017; मध्य प्रदेश के मंडला जिले के चुटका गाँव में प्रस्तावित परमाणु पॉवर प्लांट के विरोध में निषाद मंगल भवन, स्टेडियम के सामने, मंडला में चेतावनी सभा का आयोजन किया गया। सभा में मेधा पाटकर, एडवोकेट आराधना भार्गव, प्रफुल समन्तरे, राजकुमार सिन्हा ने अपनी बाते रखी, ये लड़ाई, ये विरोध किसी के खिलाफ नहीं बल्कि अपनी प्रकृतिक जमीन को बचाने के लिए…
और पढ़े...

मध्य प्रदेश : दोबारा विस्थापित आदिवासियों को खानाबदोश करने की तैयारी

-दीपक ‘विद्रोही’ बार-बार अपना घर छोड़कर जाना, फिर से नए आशियाने की तलाश और जिंदगी को फिर से पटरी पर दौड़ाने की…

चुटका : घुप्प अंधियारे में रोशनी का खेल

चुटका ने सत्ताधारियों को पुनः जतला दिया है कि अब उनकी चुटकी बजाते ही आदिवासी व अन्य वंचित समुदाय घुटने नहीं टेक…

चुटका के बहाने शहरों से एक संवाद

नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में परमाणु विद्युत संयंत्र लगाने के विनाशकारी प्रभाव सामने आ सकते हैं। नर्मदा नदी पर मध्यप्रदेश के करीब एक तिहाई यानि 2.5 करोड़ लोग आश्रित हैं। यदि इसमें किसी भी प्रकार का परमाणु प्रदूषण हुआ तो अकल्पनीय विध्वंस होगा। हमें इस विषय पर पूरी ईमानदारी से विचार करना चाहिए। चुटका परमाणु संयंत्र के मुद्दे पर सचिन कुमार जैन का…
और पढ़े...

चुटका परमाणु ऊर्जा संयंत्र के खिलाफ प्रतिरोध की जीत

चुटका परमाणु संयंत्र के खिलाफ चुटका व आसपास के गांवों की आदिवासी जनता द्वारा चलाए जा रहे जुझारू संघर्ष और तमाम…