संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

राज्यवार रिपोर्टें

झारखण्ड : अडानी पॉवर प्लांट जबरन भूमि अधिग्रहण और सरकारी बर्बरता का सूचक- जाँच दल की रिपोर्ट

झारखण्ड, रांची 31 अक्टूबर 2018। गोड्डा में अडानी पॉवर प्लांट के लिए भूमि अधिग्रहण कानून 2013 की प्रक्रियाओं का व्यापक उल्लंघन, किसानों की फसलों को बर्बाद करना, संभावित लाभों के बारे में लोगों से झूठ बोलना, प्रभावित परिवारों पर पुलिस बर्बरता, केस मुकदमे करना जैसी एक के बाद एक घटी इन घटनाओं की वास्तविकता जानने के लिए झारखंड जनाधिकार महासभा के एक…
और पढ़े...

मध्य प्रदेश : नर्मदा घाटी विस्थापितों का गुजरात में सरदार पटेल के पुतले का विरोध…

सरदार पटेल जंयजी मनानी है तो किसान-खेतीहरों को कर्जमुक्त करे और उपज का सही दाम दे सरकार। गुजरात के आदिवासीयों को…

संसाधन और स्वशासन : जन वनाधिकार सम्मेलन में वनाधिकार जन घोषणा पत्र का मसौदा जारी

रायपुर 29 अक्टूबर 2018 । संसाधन और स्वशासन : जनता की आवाज पर दो दिविसय जन वनाधिकार सम्मेलन का आयोजन गोंडवाना भवन,…

अब वक्त आ गया है कि किसानों को उजाड़ने वाली मध्य प्रदेश सरकार को किसान उखाड़ फेंके :…

भूमि अधिकार आंदोलन के बैनर तले मध्य प्रदेश में जारी जन आंदोलनों का राज्य सम्मेलन 23 अक्टूबर को शाक़िर सदन, भोपाल में…

जन आंदोलनों पर बढ़ते राजकीय दमन के खिलाफ-राष्ट्रीय एकजुटता सम्मेलन; 31 अक्टूबर…

देश में जैसे जैसे सामाजिक आर्थिक संकट गहराता जा रहा है,इन संकटों से प्रभावित हिस्सों पर राजकीय दमन भी बढ़ते जा रहा…

दिल्ली में फिर होगा किसान आंदोलन : 28 नवंबर को देश भर के किसानों का दिल्ली कूच

नई दिल्ली: देश भर के किसान अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर दिल्ली का रुख करेंगे. अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति के बैनर तले दिल्ली के रामलीला मैदान में दो दिवसीय किसान महासम्मेलन का आयोजन किया गया है. यह सम्मेलन 29 और 30 नवंबर को होगा. समिति के अध्यक्ष वीएम सिंह ने गुरुवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि तीन दिन के इस आंदोलन के दौरान 28 नवंबर को…
और पढ़े...

राजस्थान सरकार अरावली क्षेत्र में हो रहे अवैध खनन पर 48 घंटे में रोक लगाए :…

नई दिल्ली ( 23 अक्टूबर 2018): अरावली में जारी माइनिंग पर सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान सरकार को कड़ी फटकार लगाई है। साथ…

भूमि अधिकार आंदोलन : मध्य प्रदेश के जनसंघर्षों का राज्य सम्मेलन; 23 अक्टूबर 2018,…

मध्य प्रदेश में भूमि अधिकार आंदोलन के सक्रियकरण तथा जमीन से जुड़े मुद्दों को आगामी समय मे प्रदेश के राजनैतिक एजेन्डे…

उड़ीसा : खतरे में नियामगिरी के डोंगरिया कोंध आदिवासी; नहीं थमा अवैध गिरफ़्तारियों का दौर

उड़ीसा के नियामगिरी क्षेत्र में डोंगरिया कोंध आदिवासियों के साथ मारपीट, झूठें आरोपों में गिरफ़्तारी, फर्जी मुकदमों में डाल कर खनन के प्रतिरोध को दबाने का पूरा प्रयास सरकार कर रही है. हाल ही में नियामगिरी सुरक्षा समिति के दाढ़ी काद्रका को बिना किसी वारंट के उनके गाँव से उठाया और चार दिनों तक बुरी तरह प्रताड़ित करने के बाद 10 अक्टूबर को नज़दीक के पुलिस…
और पढ़े...