संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

उत्तर प्रदेश

मोदी के वाराणसी में पुल टूटा, गंगा गंदी किंतु विकास होगा किसानों से जबरन जमीन छीनकर

23 जुलाई, 2018 | वाराणसी, उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में प्रस्तावित 44 किलोमीटर लंबे रिंगरोड के लिए 26 गांव के किसानों की जमीन का जबरन अधिग्रहण किया जा रहा है। गांव के करीब 40 प्रतिशत किसान अपनी जमीन देना नहीं चाहते है फिर भी पुलिस के बल पर शासन किसानों की जमीन हड़पना चाहती है। शासन ने औने-पौने दाम तय करके 2015-16 में…
और पढ़े...

उत्तर प्रदेश : पेप्सी प्लांट के विरोध में किसानों का कलेक्ट्रेट घेराव

उत्तर प्रदेश के हरदोई स्थित पेप्सिको प्लांट का 4 जुलाई 2018 को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले हजारों किसानों ने…

किसानों की कब्रगाह बनता बुंदेलखंड : 15 दिनों में 5 किसानों ने की आत्महत्या

-शिव नारायण सिंह परिहार किसानों की कब्रगाह बन चुका बुंदेलखंड। झांसी के तहसील टहरौली थाना उल्दन गांव नोटा का रहने…

योगी की ‘रासुका’ माने औक़ात में रहने की नसीहत

दमन के ख़िलाफ़ प्रतिरोध के मोर्चे पर सक्रिय ‘रिहाई मंच’ के प्रतिनिधि मंडल ने अभी हाल में बहराइच और बाराबंकी का दौरा किया. दोनों जगहें सांप्रदायिक हिंसा और बाद में पुलिसिया कार्रवाई से गुज़र चुकी हैं. इस दौरे में मैं भी शामिल था. इस दौरान जो जाना-समझा और महसूस किया, यह रिपोर्ट उसी का निचोड़ है; 11 जून को रिहाई मंच के प्रतिनिधि मंडल ने महादेवा के…
और पढ़े...

उत्तर प्रदेश : वाराणसी के नागेपुर गाँव के ग्रामीणों का कोका कोला के खिलाफ प्रदर्शन

भूजल दिवस के अवसर पर 10 जून 2018 को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम नागेपुर में ग्रामीणों ने कोका कोला प्लांट मेहदीगंज…

हाइकोर्ट ने 2012 में करछना भूमि अधिग्रहण रद्द कर दिया परंतु सरकार अभी भी लगी है…

13 मार्च 2018 को किसान कल्याण संघर्ष समिति करछना एवं जन संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले इलाहबाद जिले के…

किसानों को राहत दे पाने में असमर्थ सरकार : किसान खुद आगे आए किसानों की मदद के लिए

20 जनवरी को उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले की कोतवाली महमूदाबाद के ग्राम भौंरी में एक दलित किसान ज्ञानचंद्र की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या कर दी। हमेशा की तरह न ही प्रशासन ने और न सरकार ने मृतक किसान की कोई सुध ली। किंतु इस बार किसान खुद अपने मारे गए किसान भाई की मदद के लिए आगे आए। किसानों के संगठन अखिल भारतीय किसान सभा ने मृतक परिवार से मिलकर शोक…
और पढ़े...

उत्तर प्रदेश : योगी सरकार समर्थन मूल्य नहीं दे रही थी परेशान किसानों ने कलेक्ट्रेट…

उत्तर प्रदेश के झाँसी में 2 फ़रवरी 2018 को उड़द की फसल का समर्थन मूल्य न मिलने, अपनी फसल को बिचौलियों के माध्यम…

कब्जे व मुआवजे में पांच साल देरी की तो भूमि अधिग्रहण खत्म : इलाहाबाद हाईकोर्ट

राजस्थान पत्रिका की खबर के अनुसार 29 जनवरी 2018 को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा है कि अधिगृहित जमीन का मुआवजा देने…

जे.पी. पॉवर प्लांट विरोधी आंदोलन : 4 महीने के बाद राजबहादुर पटेल जमानत पर रिहा

13 दिसंबर 2017 को करछना आंदोलन, उत्तर प्रदेश के अगुवाकार तथा किसान कल्याण संघर्ष समिति, करछना के अध्यक्ष राजबहादुर पटेल को इलाहाबाद सेशन अदालत ने जमानत दे दी। राजबहादुर पटेल पर कुल 18 मुकदमें दर्ज थे उनमें से 14 मुकदमों में 50,000-50,000 के 14 मुचलके, 2 मुकदमों में एक-एक लाख के दो मुचलके तथा दो मुकदमों में 20,000 के दो मुचलके पर जमानत दी गई…
और पढ़े...