संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

राज्यवार रिपोर्टें

भूमि अधिग्रहण विरोधी आंदोलन में किसान भागुराम शहीद

गोरखपुर गांव के किसान अपनी आजीविका के मुख्य साधन कृषि भूमि को बचाने और सरकार को भूमि अधिग्रहण के खिलाफ अपने मज़बूत इरादे जताने के लिए 7 किसान मरणासन्न हड़ताल पर बैठे। 7वें दिन 3 किसानों की हालत ख़राब हो गई। उन्हें अग्रोहा मेडिकल कालेज में भर्ती करवाया गया। 28 दिसंबर 2010 को एक अनशनकारी किसान भागुराम की मृत्यु हो गई। किसान संघर्ष समिति ने अपनी फौरी…
और पढ़े...

गोरखपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र विरोधी आंदोलन किसानों ने किया मिनी सचिवालय के सामने…

किसानों का प्रदर्शन: 31 मार्च 2011 फरवरी, मार्च 2011 के महीनों में भी जनसंपर्क, बैठकें जारी रहीं तथा 80 से…

आंध्र प्रदेश के किसानों ने भी तेज किया परमाणु संयंत्र का विरोध

हरियाणा के गोरखपुर तथा महाराष्ट्र के जैतापुर में प्रस्तावित परमाणु संयंत्र के विरोध की चिंगारी को जापान की त्रासदी…

श्रीकाकुलम में थर्मल पॉवर प्लांट के विरोध में संघर्ष पुलिस फायरिंग में 3 किसानों की मौत

श्रीकाकुलम में थर्मल पावर प्लांट के विरोध में खड़े गांव वालों, किसानों, मछुआरों के ऊपर आंध्र प्रदेश पुलिस ने जुलाई 2010 के बाद फरवरी 2011 में फिर से अपना दमनात्मक रुख दिखाया। आंध्र प्रदेश सरकार एवं पुलिस शायद यह सोच रखती है कि ‘विकास बंदूक की नोक से’ ही गुजर कर आता है, अतएव अपने जीवन, आजीविका एवं संसाधन को बचाने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से क्रमिक…
और पढ़े...

जापान के बाद जैतापुर में बढ़ी हाय तौबा

जापान में परमाणु हादसे के बाद जैतापुर परमाणु ऊर्जा परियोजना का विरोध ओर तेज हो गया है। विरोध कर रहे लोगों का कहना…

संपादकीय, मार्च 2011

चेरनोबिल परमाणु संयंत्र की दुर्घटना के 25 साल पूरे होते-होते जापान की मौजूदा प्राकृतिक विभीषिका हमारे सामने है। जापान में आये भूकम्प तथा परमाणु संयंत्रों से होने वाले रेडिएशन से भी दुनिया के शासक सबक सीखने को तैयार नहीं हैं। चर्चाओं, लेखों और बयानों में यह कहा जा रहा है कि इस तरह की दुर्घटनायें संभावित हैं, जरूरत इन स्थितियों से निपटने की…
और पढ़े...

रेल विस्तार परियोजनायें : भूमि अधिग्रहण का तीखा विरोध

सिंगूर और नंदीग्राम के प्रस्तावित भूमि अधिग्रहणों पर ग्रहण लगाने के बाद हाबड़ा के सांकराइल, बोलपुर, हुबली के…

गंगा एक्सप्रेस वे विरोधी आंदोलन

गाँवों-गाँवों में किसान शांति सेना का गठन हुआ प्रारंभ   कृषि-भूमि बचाओ मोर्चा उ. प्र. द्वारा अगस्त-सितंबर, 2010 में सघन जनजागरण एवं बड़ी-बड़ी जन सभायें की गयीं। उ. प्र. सरकार द्वारा गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए तत्काल भूमि अधिग्रहण की मंशा से गाजीपुर जनपद की तीनों प्रभावित तहसील सैदपुर, सदर व मुहम्मदाबाद में तहसीलदार की अध्यक्षता में भूमि…
और पढ़े...