संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

राजस्थान

राजस्थान : पेड़ों से उल्टा लटक किसान कर रहे प्रदर्शन, सरकार नहीं दे रही फसलों के लिए पानी

बीते रविवार को राजस्थान के बूंदी ज़िले के छापड़दा गांव में फसलों के लिए पानी की मांग को लेकर किसानों ने पेड़ों से उल्टा लटक कर प्रदर्शन किया. (फोटो साभार: पत्रिका) बूंदी (राजस्थान): एक ओर सरकार बजट में किसानों की आय बढ़ाने की बात कर रही है तो वहीं दूसरी ओर पानी के अभाव में सूख रही अपनी फसलों को बचाने के लिए किसानों को आंदोलन करना पड़ रहा है.…
और पढ़े...

किसान सिंचाई आंदोलन : किसानों ने प्रशासन को दी 10 फ़रवरी तक की मोहलत

श्रीगंगानगर जिले के सूरतगढ़ एटा-सिंगरासर माइनर नहर आंदोलन में पूर्व घोषणा के अनुसार 54 गांवों के किसानों ने 5…

एटा-सिंगरासर माइनर नहर आंदोलन : थर्मल पॉवर स्टेशन का घेराव करने निकले 54 गांवों के…

राजस्थान के श्रीगंगानगर में एटा सिंगरासर माइनर नहर निर्माण की मांग को लेकर एक बार फिर टिब्बा क्षेत्र के ग्रामीण…

2709 दिनों से जारी है बांगड़-बिरला के खिलाफ धरना : योगेंद्र यादव व प्रशांत भूषण करेंगे भूमि अधिग्रहण प्रभावित क्षेत्र का दौरा

राजस्थान, नवलगढ़ 29 जनवरी 2018। भूमि अधिग्रहण विरोधी किसान संघर्ष समिति की ओर से गोठड़ा में किसानों की बैठक कैप्टन दीपसिंह शेखावत की अध्यक्षता में हुई। बैठक में स्वराज इंडिया के जय किसान आंदोलन से जुड़े व राज्य प्रभारी विज्ञान मोदी, राष्ट्रीय सलाहकार समिति के सदस्य कामरेड दिलीपसिंह, स्वराज इंडिया हरियाणा के महासचिव एसपीसिंह, एडवोकेट राजीव गोदारा,…
और पढ़े...

वागड़ मजदूर किसान संगठन का 19वां गांव गणराज्य सम्मेलन : प्राकृतिक संसाधनों पर गांव…

23-24 दिसंबर 2017 को वागड़ मजदूर किसान संगठन ने अपने 19वें गांव गणराज्य सम्मेलन का डुंगरपुर, राजस्थान में आयोजन…

मामा बालेश्वर दयाल स्मृति यात्रा का तीसरा दिन : 26 दिसम्बर को बामनिया में समापन

हज़ारों अनुयायियों के द्वारा की जा रही मामा बालेश्वर दयाल स्मृति यात्रा का आज तीसरा दिन 1965 में…

10वां दिन : गर्दन तक जमीन में दबे है नीदड़ के किसान

राजस्थान की राजधानी जयपुर स्थित विधानसभा से कोई बीस किलोमीटर दूर नींदड़ गाँव के किसान पिछले 10 दिनों से जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे है। जमीन समाधि सत्याग्रह कर रहे किसानों ने अपने शरीर को गर्दन तक मिट्टी से दबा लिया हैं। चार दिन से क्रमिक अनशन कर रहे किसानों ने इस तपती धूप में जमीन को बचाने के लिए अपनी जिंदगी को दाव पर लगा रखा है। सरकार ने…
और पढ़े...

राजस्थान : किसानों को न्यायलय भी कर रहा है गुमराह; 6 अक्टूबर के पत्रिका में दिए…

देश में सरकारे, मिडिया, कोर्पोरेटस और न्यायालय किस तरह मिल कर किसानों की जमीने हड़प रहे है इसका एक नमूना…

राजस्थान : जबरन भूमि अधिग्रहण के खिलाफ सामूहिक समाधि लेने उतारे किसान

जयपुर सीकर हाइवे स्थित नींदड गाँव में किसान पिछले 72 घंटों से भूमि समाधि ले कर बैठे हुए हैं। किसानों की…

सीकर किसान आंदोलन : मुआवजे के साथ किसानों पर 1500 मुकदमे दर्ज

जिस समय में राजस्थान के हजारों किसान अपनी मांगों को लेकर पूरा राजस्थान ठप्प किए हुए थे ठीक उसी समय राजे सरकार इन किसानों पर मुकदमे ठोकने की तैयारी कर रही थी। एक तरफ उन्होंने आंदोलनकारियों पर दबाव बनाकर उन्हें समझौता करने पर मजबूर किया तो दूसरी तरफ उन्होंने 1500 किसानों पर रास्ता जाम करने के लिए मुकदमा दर्ज कर दिए। हम इस मामले पर आपके साथ हेमंत…
और पढ़े...