संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

हरियाणा

मारुति मजदूरों के प्रतिरोध के चार साल

18 जुलाई 2012 को मारुति मानेसर के प्लांट मे हुई घटना को चार साल हो गए हैं जिसमें 147 मजदूरों को जेल में बंद व 546 स्थाई मजदूरों , व 2300 ठेका मजदूरों को निकाल दिया गया था । जिसमें सरकार व कम्पनी मालिकों ने मिलकर ढाई साल तक किसी भी मजदूर साथी की जमानत नहीं होने दी। सरकार व कम्पनी मालिकों के गठजोड़ ने नंगे तौर पर मारुति मजदूरों के संघर्ष को…
और पढ़े...

हरियाणा में खट्टर सरकार की हिटलरशाही : निजीकरण का विरोध कर रहे बिजलीकर्मियों पर…

हरियाणा सरकार ने बिजली कर्मियों की दो दिन की हड़ताल की घोषणा के बाद राज्य में छह महीने के लिए एस्मा लगा दिया है।…

भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ प्रदर्शन : योगेंद्र यादव पुलिस हिरासत में !

नई दिल्ली के जंतर-मंतर पर 10 अगस्त 2015 को भूमि अधिग्रहण बिल के खिलाफ किसानों के साथ प्रदर्शन कर रहे स्वराज…

भगाना के दलित; इंसाफ माँगा था, इस्लाम मिला !

लगभग 4 माह तक उनका सामाजिक बहिष्कार किया गया ,आर्थिक नाकेबंदी हुयी ,तरह तरह की मानसिक प्रताड़नाएँ दी गयी | गाँव में सार्वजनिक नल से पानी भरना मना था ,शौच के लिए शामलात जमीन का उपयोग नहीं किया जा सकता था ,एक मात्र गैर दलित डॉक्टर ने उनका इलाज करना बंद कर दिया ,जानवरों का गोबर डालना अथवा मरे जानवरों को दफ़नाने के लिए गाँव की भूमि का उपयोग तक वे नहीं…
और पढ़े...

मानेसर स्थित अस्ति इलेक्ट्रोनिक्स कंपनी के मज़दूरों का संघर्ष तेज

हरियाणा के मानेसर में आज (9 दिसम्बर 2014) सुबह अस्ति इलेक्ट्रोनिक्स कंपनी के कारखाने के स्थायी मज़दूरों ने हड़ताल…

काले हिरणों की मौत के जिम्मेवार परमाणु संयंत्र -प्रशासनिक अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज व सम्मन जारी

भारत सरकार ने गोरखपुर हरियाणा अणु विद्युत परियोजना के लिए 2010 से गांव गोरखपुर में 1313 एकड़ एवं गांव बड़ोपल में 185 एकड़ भूमि का अधिग्रहण प्रारम्भ किया।बड़ोपल गांव में अधिगृहित भूमि जो काले हिरणों का सदियों से प्राकृतिक आवास है।गत वर्ष 5 जुलाई से 14 जुलाई के दौरान में परमाणु संयंत्र कालोनी की बाड़बंदी के रूप में लगाई गई जाली कें कारण चंद ही…
और पढ़े...

विदेशी निवेश रिझाने की चूहेदानी पर लटकी ज़िंदगियाँ: निरपराध बंदी मारूति-सुज़ुकी के…

पत्रकार नेहा दीक्षित ने भोंडसी जेल में दो साल से बिना अपराध बंद मारुती-सुज़ुकी के मजदूरों का हाल अपनी रिपोर्ट में…

ग्रीन ट्रिब्युनल ने गोरखपुर परमाणु संयंत्र पर माँगा जवाब, सुनवाई शुरू

गुजरी 12 मार्च 2014 को राष्ट्रीय ग्रीन ट्रिब्युनल के माननीय जस्टिस स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली मुख्य बैंच…

गोरखपुर परमाणु संयंत्र के विरोध में तीन दिवसीय यात्रा

हरियाणा के फतेहाबाद जिले के गोरखपुर गाँव में प्रस्तावित गोरखपुर परमाणु प्लांट के विरोध में देश व प्रदेश के सभी जनसंगठन व परमाणु वैज्ञानिक जो परमाणु ऊर्जा के खिलाफ आंदोलनरत है। वो आगामी 9 मार्च से लेकर 11 मार्च 2014 तक हरियाणा के विभिन्न जिलों में जाकर परमाणु खतरों से नागरिकों को जागरूक करेगे। आंदोलनकारियों की यह यात्रा 9 मार्च 2014 को सुबह छोटू…
और पढ़े...