संघर्ष संवाद
Sangharsh Samvad
.

हरियाणा

भूमि अधिग्रहण के विरोध में किसान का आत्महत्या का प्रयास

फतेहाबाद जिले के गोरखपुर गांव में प्रस्तावित परमाणु संयंत्र के लिए भूमि अधिग्रहण के विरोध में किसान बदलू राम ने 13 जुलाई 2012 की शाम को कीटनाशक पीकर जान देने की कोशिश की। किसान बदलू राम को गंभीर हालत में फतेहाबाद स्थित सिवाच अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डा. राजेंद्र शर्मा का कहना है कि बदलू राम की हालत अब ठीक है। उल्लेखनीय है कि…
और पढ़े...

भूमि अधिग्रहण के विरोध में महेन्द्रगढ के किसानों का धरना एवं भूख-हड़ताल शुरू

महेन्द्रगढ़ के पास रिवाड़ी रोड पर 28 मई 2012 से निकटवर्ती गांव रिवासा और माजरा खुर्द के किसान अपनी उपजाऊ भूमि…

गोरखपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र का आन्दोलन तेज हुआ

गोरखपुर परमाणु ऊर्जा संयंत्र के विरोध में आंदोलन 670 दिन से चल रहा है। 17 अगस्त 2010 से किसान धरने पर बैठे हुये…

हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस कालसे पाटिल का किसानों को समर्थन

जैतापुर (महाराष्ट्र) के परमाणु संयंत्र विरोधी अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहे मुम्बई हाईकोर्ट के पूर्व जस्टिस कालसे पाटिल 27 फरवरी 2012 को किसान संघर्ष समिति द्वारा आयोजित धरने के 567 वें दिन किसानों को समर्थन देने फतेहाबाद पहुचे । धरने को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि परमाणु ऊर्जा किसी भी सूरत में मानव हित में नहीं है क्योंकि इससे…
और पढ़े...

परमाणु-ऊर्जा के खतरनाक दुःस्वप्न को हरियाणा के किसानों की चुनौती

हरियाणा के फतेहाबाद जिले में पिछले अठारह महीने से चल रहा परमाणु ऊर्जा-विरोधी आन्दोलन निर्णायक स्थिति में पहुँच गया…

मारूति-सुजुकी कारखाना (मानेसर) की तालाबंदी तथा मजदूरों के दमन के विरूद्ध : हरियाणा…

मजदूर एकता समिति की तरफ से 22 सितंबर 2011 को दिल्ली स्थित हरियाणा भवन पर आयोजित प्रदर्शन में आई.सी.टी.यू., इक्टू,…

परमाणु ऊर्जा संयंत्र विरोधी संघर्ष : एक साथी और शहीद

सितंबर 2011 माह की शुरूआत में हरियाणा के गोरखपुर में प्रस्तावित परमाणु ऊर्जा संयंत्र परियोजना के खिलाफ लड़ रहे किसानों को जब अपने साथी ईश्वर सिंह सिवाच (62 वर्ष) की हृदय आघात से हुई मौत का पता चला तो उन्होंने यह पहचानने में कोई गलती नहीं की कि यह मौत उनके संघर्ष की तीसरी आहुति है। ईश्वर सिंह सिवाच, राम कुमार और भागु राम फतेहाबाद जिला मुख्यालय के…
और पढ़े...

गोरखपुर में तेज हुआ परमाणु संयंत्र विरोध

कारपोरेटी उपनिवेशवाद के खिलाफ एवं जल-जंगल-जमीन व जीने के अधिकार के लिए संघर्षरत नये समाज की रचना के लिए प्रतिबद्व…

भूमि अधिग्रहण का विरोध, जारी है धरना-प्रदर्शन और गिरफ्तारी

हरियाणा राज्य के रोहतक जिले के 9 गांवों की 3368 एकड़ जमीन का अधिग्रहण खरखौदा में आई.एम.टी. बनाने के लिए किया जा रहा…

समर्थन में आया : शहीद भगत सिंह नौजवान सभा पंजाब-हरियाणा

23 जनवरी 2011 को फतेहाबाद जिले के ब्लाक रतिया में शहीद भगतसिंह नौजवान सभा, पंजाब-हरियाणा द्वारा एक सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में हंसराज, मंगलार सिंह, राजेन्द्र शर्मा आदि वक्ताओं ने अपने विचार रखे। सम्मेलन के अंत में गोरखपुर परमाणु संयंत्र को रद्द करने के लिए प्रस्ताव पारित किया गया।
और पढ़े...